श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ

अयोध्या में जमीन घोटाले के आरोपों गलत बताते हुए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के माननीय कोषाध्यक्ष स्वामी श्री गोविंद देव गिरी जी द्वारा प्रेस वक्तव्य जारी किया गया.

पिछले कुछ समय से अरविंद केजरीवाल की पार्टी यानि आम आदमी पार्टी के एक नेता संजय सिंह द्वारा श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र पर जमीन घोटाले के आरोप लगाए जा रहे हैं. लेकिन अब उनका पूरी तरह से खंडन करते हुए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के माननीय कोषाध्यक्ष स्वामी श्री गोविंद देव गिरी जी ने अधिकारिक ट्विटर हैंडिल से एक प्रेस वक्तव्य को जारी किया. उन्होंने इस प्रेस वक्तव्य बहुत सी बातें स्पष्ट कर दी हैं.

कोषाध्यक्ष स्वामी श्री गोविंद देव गिरी जी ने इस प्रेस वक्तव्य में कहा की “खुद को राजनीतिक या धार्मिक शख्सियत बताने वाले कुछ लोग गलत भावनाओं के तहत अफवाहें फैलाकर राम मंदिर निर्माण में बाधा पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं” इसके अलावा उन्होंने कहा की “पिछले 15 – 20 दिनों से कुछ लोग विभिन्न चैनलों के जरिए अयोध्या में भूमि सौदों में गड़बड़ी का आरोप लगा रहे हैं”. बता दें की गिरी ने इन आरोपों के बीच स्पष्ट किया कि मंदिर की जमीन के आसपास की जमीनों के अधिग्रहण के कई कारण हैं.

स्वामी श्री गोविंद देव गिरी जी के मुताबिक इसमें वास्तु के साथ – साथ भव्य मंदिर का निर्माण पूरा होने और दर्शन के लिए खुलने के बाद बड़ी संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं के सुविधा को ध्यान में रखते हुए भवन निर्माण की योजनाएं शामिल हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा की “पिछले तीन दिनों तक वह लगातार वकीलों और चार्टर्ड एकाउंटेंट के साथ मिलकर भूमि खरीद सौदे के सभी कागजातों की अच्छी तरीके से जाँच की है, भूमि के सौदों में कहीं भी कोई कमी नहीं पाई गई है”. गिरी ने घोटाले के आरोप लगाने वालों को चुनोती देते हुए कहा की “अगर आरोप लगाने वाले लोग हमें उसी स्थान पर इससे भी सस्ती जमीन दिलाने में मदद कर सकते हैं, तो ट्रस्ट उनका कृतज्ञ रहेगा”.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

अयोध्या में संजय सिंह पर केस दर्ज, भड़के रामभक्त

By Sachin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *