मदरसों

कानपुर में हुई हिं’सक पत्थरबाजी को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है, जिसमें बताया जा रहा है की मदरसों के बच्चों को पैसे और बिरयानी देकर पत्थरबाजी करवाई गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उत्तर प्रदेश के कानपुर में 3 जून, 2022 को जुमे की नमाज के बाद हुई हिं’सा के मामले में मदरसों में पढ़ने वाले बच्चे पुलिस की रडार पर है। हिं’सा के दौरान इन बच्चों ने जमकर पत्थरबाजी की और ब’म फेंके थे। CCTV फुटेज और वायरल फोटो-वीडियो की जाँच से इस बात की पुष्टि हुई है। इसी बीच सोशल मीडिया पर भी कुछ वीडियो वायरल हो रहे हैं।

आपको बताते चलें की इस मामले में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) के आदेश पर पुलिस ने जाँच शुरू की तो ऐसे कई चौकाने वाले खुलासे हुए। पुलिस की जाँच में यह बात भी सामने आई है कि जिले में हिं’सा कराने के लिए मदरसे के बच्चों को पैसे दिए गए थे। यहाँ तक कि हिं’सा से पहले उन्हें कई बार बिरयानी भी खिलाई गई। साथ ही बच्चों को मजहबी कट्‌टरता का भी पाठ पढ़ाया गया था।

वहीं ये बात भी सामने आई हैं की कश्मीर में पत्थरबाजी करने के लिए आतंकी समूह भी ऐसा करते रहे हैं। जिससे इलाके के मदरसे में पढ़ने वाले छात्र भी अब पुलिस के रडार पर हैं। इसके अलावा एक बार फिर से कानपुर हिं’सा के आरोपितों को पाँच दिन की रिमांड पर लेने के लिए कोर्ट में अर्जी दी गई है। वहीं इस मामले में कानपुर पुलिस जल्द ही जाँच पूरी करके अपनी रिपोर्ट NCPCR को सौंपेगी।

गौरतलब है की JCP आनंद प्रकाश तिवारी मुताबिक बच्चों का हिं’सा में शामिल होना गंभीर बात है। NCPCR ने भी इसका संज्ञान लेते हुए कानपुर पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा को जाँच का आदेश दिया है। अभी तक कि जाँच में सामने आया कि नाबालिग बच्चों को रुपए देकर हिं’सा के लिए डायवर्ट किया गया। बच्चों तक फंड सीधे नहीं, बल्कि अलग-अलग चैनल से भेजे गए।

उन्होंने आग बताया की इलाके के नेताओं और गली-मोहल्ले के लोगों से रुपए बँटवाए गए। जिससे तय समय पर सैकड़ों नाबालिग हाथ में पत्थर लेकर सड़कों पर उतर आए थे और जमकर पथराव और ब’मबाजी किया था। बताया जा रहा है की पुलिस की जाँच में कानपुर के नामी बिल्डर हाजी वसी समेत आठ बिल्डरों का नाम सामने आया है। जिन्होंने कानपुर हिंसा के मास्टरमाइंड हयात जफर हाशमी को फंडिंग करते थे। पुलिस अब इस बात की भी जाँच कर रही है कि कहीं इस पैसे का इस्तेमाल हिंसा फैलाने के लिए तो नहीं किया गया है।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

नागा साधुओं का नूपुर शर्मा को समर्थन, कहा “हमारी बेटी को मिल रही रेप की धमकी, शांत नहीं बैठेंगे”

One thought on “मदरसों के बच्चों को पैसे देकर कराई पत्थरबाजी, CCTV से मिले पक्के सबूत”

Comments are closed.

%d bloggers like this: