उत्तराखंड के आंतरिक सियासी घमासान के बिच आज तीरथ सिंह रावत ने मुख्यमंत्री पर शपत ली, उन्होंने अपनी सफ़लता के पीछे का कारण RSS को बताया.

तीरथ सिंह रावत

पिछले कई दिनों से उत्तराखंड राज्य में भारतीय जनता पार्टी के भीतर बड़ी कशमकशी वाला माहौल बना हुआ था, दरअसल भाजपा के कुछ विधायक पूर्व मुख्य मंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से नाराज थे और विधायकों की इसी नाराजगी के कारण त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कल उत्तराखंड के राज्यपाल को अपना CM पद से इस्तीफ़ा पत्र सौंप दिया.

त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस्तीफे के बाद आज देहरादून में भारतीय जनता पार्टी के विधायक दल की बैठक हुई और उस बैठक में सर्व सहमती से तीरथ सिंह रावत को राज्य का अगला मुख्य मंत्री बनाने का निर्णय लिया गया. गोरतलब है की पूर्व मुख्य मंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ही सर्व समक्ष ये घोषणा की थी.

तीरथ सिंह रावत की सफलता कारण RSS

उत्तराखंड राज्य के 11वें मुख्य मंत्री चुने जाने के बाद तीरथ सिंह रावत ने कहा की “मेरी सफलता में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अहम भूमिका है और मुझे यहीं से प्रेरणा मिली है, मेरी सफलता के पीछे पत्नी और माता-पिता सबका हाथ है”.

बता दें की नय चुने गए मुख्य मंत्री TS रावत का जन्म 9 अप्रैल 1964 को गढ़वाल के कलगीखल विकासखंड के सीरों में हुआ, वे छात्र जीवन से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गए थे और वह हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय के छात्र संघ के अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

उन्होंने CM पद की शपत लेने के बाद कहा की “मई मिलजुल कर और सबको साथ लेकर काम करूंगा, जो दायित्व मुझे सौंपा गया है उसका निर्वहन मैं पूरी निष्ठा से करूंगा और भारतीय जनता पार्टी ने मुझे यह ये अवसर प्रदान किया है, इसके लिए मैं पार्टी के नेतृत्व का बहुत आभारी भी हूं”.

तीरथ सिंह रावत को PM मोदी ने दी बधाई

देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भी TS रावत को बधाई देते हुए ट्वीट कर लिखा की “उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर श्री तीरथ सिंह रावत को बधाई, वह अपने साथ विशाल प्रशासनिक और संगठनात्मक अनुभव लाता है और मुझे विश्वास है कि उनके नेतृत्व में राज्य प्रगति की नई ऊंचाइयों को छूता रहेगा”.

इसे भी पढ़ें:-

त्रिवेंद्र सिंह रावत का उत्तराखंड CM पद से इस्तीफ़ा, जानिए पूरी कहानी

2 thoughts on “तीरथ सिंह रावत ने ली मुख्यमंत्री पद की शपत,सफ़लता का कारण RSS”

Leave a Reply

%d bloggers like this: