शिक्षा मंत्री

कॉंग्रेस शासित छत्तीसगढ़ में एक नशा मुक्ति कार्यक्रम के दौरान शिक्षा मंत्री ने कुछ ऐसा कहा, की उसका वीडियो अब हर तरफ वायरल हो रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कॉन्ग्रेस नेता और छत्तीसगढ़ आबकारी मंत्री रहे कवासी लखमा ने दो साल पहले शराब को प्रमोट करते हुए कहा था, ‘दारू पिवो और खाओ चखना, जुग-जुग जियो कवासी लखमा’। अब उन्हीं की तर्ज पर एक बार पिर राज्य के स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय टेकाम ने भी शराब को लेकर बयानबाजी की है। आप ये वीडियो देखिए:-

उनका कहना है कि शराब में समान मात्रा में पानी मिलाकर पीने से वो एक दवा की तरह काम करती है। खास बात ये है कि प्रेमसाय टेकाम बलरामपुर में नशा मुक्ति अभियान के तहत आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। हालाँकि, नशा मुक्ति कार्यक्रम में वो शराब को ही प्रमोट करते दिखे। उनका ये बयान सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

कार्यक्रम में बतौर अतिथि शामिल हुए मंत्री जी ने कविवर हरिवंशराय बच्चन का जिक्र करते हुए कहा, “हरिवंश राय बच्चन ने लिखा था कि बैर बढ़ाते मस्जिद मन्दिर मेल कराती मधुशाला, लेकिन सब में नियंत्रण होना चाहिए। शराब में मात्रा के अनुसार पानी मिलाकर पीने से वह दवा का काम करती है। कुछ लोग इसके हानि के बारे में बताते हैं तो कुछ इसके फायदे भी बताते हैं। दारू में ‘डी’ के महत्व को समझना चाहिए। दारू में अगर पानी मिलाएँगे तो उसका डायवर्सन कितना हो, ड्यूरेशन कितना हो इसका अपना महत्व है।”

सड़कों पर टेकाम का अजीब बयान

वहीं दूसरी ओर प्रेमसाय टेकाम ने कार्यक्रम के दौरान जिले की खराब सड़कों को लेकर बातचीत भी की। जब पत्रकारों ने खराब सड़कों की मरम्मत को लेकर सवालकिया तको टेकाम ने कहा कि कोशिश की जा रही है कि खराब सड़कें जल्द बन जाएँ, लेकिन ऐसा नहीं होने का बड़ा कारण ये है कि जहाँ भी सड़के खराब होती हैं, तो वहाँ पर दुर्घटना कम होती है और इस कारण से मौतों का आँकड़ा भी कम हो जाता है।लेकिन सड़कें अच्छी होने पर दुर्घटनाएँ भी बढ़ जाती हैं।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

शराब पीने वालों के लिए खुशखबरी, प्रधानमंत्री घर-घर पहुँचा रहे पाइपलाइन: पढ़ें पूरी रिपोर्ट

%d bloggers like this: