अग्निपथ योजना

देश के कई हिस्सों में केंद्र सरकार द्वारा लाई गई ‘अग्निपथ योजना’ का विरोध प्रदर्शन हो रहा है, लेकिन इस लेख में हम आपको इसके फायदे और नुकसान के बारे में समझाएंगे।

जी न्यूज की विशेष रिपोर्ट के मुताबिक हर साल सेना के तीन अंगों में Non- Commissioned Rank यानी ऑफिसर रैंक से जो नीचे रिक्त पद होते हैं, उन्हें भरने के लिए नौकरियां निकाली जाती थीं। जिन लोगों का इसमें चयन होता था, उनकी सेना में नौकरी लग जाती थी। इस नौकरी की अवधि 15 से 24 वर्ष तक होती थी। असल में सेना के तीनों अंगों में ये नियम है कि अगर एक सिपाही सेना में अपनी सेवा के 15 वर्ष पूरे कर लेता है तो वो सरकार से पेंशन पाने के लिए योग्य हो जाता है।

आपको बताते चलें की अगर कोई व्यक्ति 21 वर्ष की उम्र में सेना में भर्ती हुआ है तो वो 36 वर्ष की उम्र में सरकार से पेंशन लेने के लिए योग्य हो जाएगा। लेकिन अब जो नई योजना आई है, उसके तहत नौकरी की ये अवधि 4 साल होगी और 4 साल के बाद सरकार अग्निवीरों को पेंशन नहीं देगी। वहीं इस विवाद की जड़ में दो कारण हैं, पहला अब सेना में स्थाई नौकरी नहीं होगी। दूसरा रिटायरमेंट के बाद पेंशन नहीं मिलेगी।

बताया जा रहा है की इस योजना से सेना में ज्यादा से ज्यादा युवाओं को देश की रक्षा करने का अवसर मिलेगा। इससे भारतीय सेना की औसत उम्र 32 वर्ष से घट कर 26 वर्ष हो जाएगी। यानी आज से 50 वर्षों के बाद जब देश की आबादी तेजी से बूढ़ी हो रही होगी, तब भी हमारी सेना युवा रहेगी। क्योंकि इस योजना के तहत एक समय अंतराल पर युवा सेना में भर्ती होते रहेंगे।

वहीं जिन युवाओं को 4 साल के लिए सेना में भर्ती किया जाएगा, उनमें से 25 प्रतिशत युवाओं को सरकार वापस रिटेन कर लेगी। यानी ये युवा सेना में ही अपनी सेवाएं देते रहेंगे और जो 75 प्रतिशत युवा सेना से नौकरी करके निकलेंगे, उनके पास सेना में काम करने का अच्छा खासा अनुभव होगा और सेवा निधि के तौर पर लगभग 12 लाख रुपये की जमा पूंजी होगी।

इस योजना से 25 साल की उम्र में उस युवा के पास अपनी जमा पूंजी होगी। अनुभव और अनुशासन होगा और वो सबसे बड़ी बात, वो Skilled होगा। सोचिए, आज 25 साल की उम्र में कौन अपने जीवन में सेटल हो पाता है? 2013 में हुए एक सर्वे के मुताबिक, भारत में 2% से भी कम युवा ऐसे हैं, जो 25 साल की उम्र तक 12 लाख रुपये की जमा पूंजी इकट्ठा कर पाते हैं। लेकिन ये अग्निवीर 25 साल की उम्र में आत्मविश्वास से भरे होंगे।

गौरतलब है की अभी इस योजना का सबसे ज्यादा विरोध वो युवा कर रहे हैं, जिन्होंने पिछले दो वर्षों में सेना की भर्ती प्रक्रिया में हिस्सा लिया था। सेना में वर्ष 2019 के बाद से भर्ती प्रक्रिया तो निकाली गई लेकिन इन भर्ती प्रक्रियाओं को अलग अलग कारणों से पूरा नहीं किया गया और इससे हुआ ये कि, जिन युवाओं का चयन सेना में.. पुरानी भर्ती प्रक्रिया के तहत हो गया था, उनमें से बहुत सारे युवा अब सेना में नौकरी करने के लिए योग्य नहीं रह गए हैं। देखें ये वीडियो:-

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

सेना के जवान को पुलिसकर्मियों ने घसीटा-पीटा: वीडियो वायरल

One thought on “जिस अग्निपथ योजना का विरोध हो रहा है: बस इस एक वीडियो में जानिए फायदा व नुकसान!”

Comments are closed.

%d bloggers like this: