केजरीवाल

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने गुजरात में जिस ऑटो चालक के घर खाना खाया था, वो असल में मोदी-भक्त निकला। उसने कहा कि केजरीवाल से उसका कोई लेना-देना नहीं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी पूरा जोर लगा रही है। अरविंद केजरीवाल पब्लिसिटी बटोरने के लिए हर तरह के राजनीतिक हथकंडे अपना रहे हैं। कभी खुद को पीड़ित बताते हैं तो कभी बीजेपी कार्यकर्ताओं से आप के लिए काम करने के लिए कहते हैं। हाल ही में उन्होंने एक ऑटो चालक के साथ उसके घर में खाना खाया था, जिसका वीडियो भी वायरल हुआ था।

लेकिन, अब उसी ऑटो वाले ने खुद को मोदी भक्त करार दे केजरीवाल के राजनीतिक हथकंडे पर पानी फेर दिया है। इस ऑटोवाले का नाम विक्रम दंतानी है, जिसके घर जबरदस्ती केजरीवाल ने भोजन स्टंट किया। अहमदाबाद में पीएम मोदी की रैली में भगवा टोपी पहने पहुँचे दंतानी खुद को भाजपा का कोर वोटर बताते हैं। केजरीवाल के साथ खाना खाने के कारण चर्चा में आए दंतानी को जब मीडिया वालों ने देखा तो पहचान लिया और उनका साक्षात्कार ले लिया।

दंतानी ने बातचीत के दौरान खुद को मोदी फैन करार दिया। वो बताते हैं कि वो भाजपा के पारंपरिक गढ़ दंतानीवास इलाके के रहने वाले हैं। दंतानी के मुताबिक, उन्हें इस बात का बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि वो खाना खाने के बहाने राजनीतिक खेल खेल रहे हैं। वो बताते हैं कि उन्हें ऐसा करने के लिए ऑटो रिक्शॉ संघ की ओर से कहा गया था। गौरतलब है कि इस साल के अंत में राज्य में विधानसभा चुनाव होने हैं।

इस तरह के पीआर स्टंट के जरिए अरविंद केजरीवाल गुजरात के आम लोगों में अपनी पैठ बनाने की कोशिशें कर रहे हैं। ताकि वोटरों को लुभा सके। हालाँकि, हर बार उसकी पोल आउट हो जाती है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले पंजाब में विधानसभा चुनाव के दौरान भी आम आदमी पार्टी ने बड़े पैमाने पर इस तरह के स्टंट किए थे। हालाँकि, पंजाब और गुजरात में बड़ा फर्क है।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

दिल्ली के ऑटोवालों ने खोली भ्रष्टाचारी केजरीवाल की पोल: देखें वीडियो

%d bloggers like this: