बकरीद

यूपी के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने बकरीद के मौके पर राज्य में गौमांस को लेकर सख्ती से नियमों के पालन का निर्देश प्रशासन को दे दिए हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्य योगी आदित्यनाथ ने बकरीद के मौके पर प्रशासन को कड़े आदेश दिए हैं, इसी क्रम में उन्होंने टीम-09 के साथ समीक्षा बैठक में कहा की “प्रदेश में 21 जुलाई को किसी भी सार्वजनिक स्थल पर कुर्बानी बर्दाश्त नहीं होगी. इसके साथ ही किसी भी जगह पर 50 या इससे अधिक लोगों को एकत्र नहीं होने दिया जाएगा, बकरीद का त्योहार 21 जुलाई को मनाया जाएगा”. इस दौरान उन्होंने गौहत्या की रोक के लिए भी आदेश जारी किए.

मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा की “पुलिस के साथ जिला प्रशासन के अधिकारी भी नजर रखें कि बकरीद पर गोवंश, उंट व प्रतिबंधित पशु की कुर्बानी न हो”. उन्होंने इसके अलावा यह भी स्पस्ट किया की “कुर्बानी सार्वजनिक स्थलों पर नहीं की जाएगी, इसके लिए चिन्हित स्थलों या फिर निजी परिसरों का ही उपयोग किया जाएगा. उत्तर प्रदेश में गोवंश या ऊंट की कुर्बानी पूरी तरह प्रतिबंधित है. प्रदेश में कहीं पर भी ऐसा होने पर संबंधित व्यक्ति या परिवार पर कानून के मुताबिक सख्त कार्रवाई की जाए”.

विक्की पीडिया की जानकारियों के मुताबिक इस्लाम को मानने वालों के लिए यह दिन एक त्यौहार के रूप में मनाया जाता है और यह रमजान महीने की समाप्ति के लगभग 70 दिनों के बाद आता है, इस्लामिक मान्यता के अनुसार हज़रत इब्राहिम अपने पुत्र हज़रत इस्माइल को इसी दिन खुदा के हुक्म पर खुदा कि राह में कुर्बान करने जा रहे थे, तो अल्लाह ने उसके पुत्र को जीवनदान दे दिया जिसकी याद में यह पर्व मनाया जाता है. अरबी भाषा में ‘बक़र’ का अर्थ है ‘गाय’. लेकिन इधर हिंदी उर्दू भाषा के बकरी या बकरा से इसका नाम जुड़ा है, अर्थात इधर के देशों में बकरे की क़ुर्बानी के कारण असल नाम से बिगड़कर आज भारत, पाकिस्तान व बांग्ला देश में यह ‘बकरा ईद’ से ज्यादा विख्यात हैं.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

बंगाल में गूंजे ‘जय श्री राम’ के नारे, गौह्त्याओं पर ममता पर भड़के CM योगी

One thought on “बकरीद पर यूपी में नहीं होगी गौहत्या, CM योगी के आदेश”

Leave a Reply

%d bloggers like this: