शुभेंदु अधिकारी

पश्चिम बंगाल में 10 मई को शुभेंदु अधिकारी को भाजपा दल का नेता चुना गया, जिसके बाद उनहोंने अपना पहला लेख जारी कर कहा TMC की लेफ्ट जैसी दुर्गति होगी.

भारतीय जनता पार्टी को पश्चिम बंगाल में 2016 के विधानसभा चुनावों के दौरान केवल 3 सीटें ही मिली, लेकिन इस बार यानि 2021 के विधानसभा चुनावों में भाजपा ने 77 सीटों पर कब्जा किया. इस प्रदर्शन के बाद भाजपा का भी नाम बंगाल में गूंजने लगा है. इस बिच BJP ने बंगाल में भाजपा दल के नेता के रूप शुभेंदु अधिकारी को चुना है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शुभेंदु अधिकारी ने एक लेख लिखकर भविष्य की रणनीतियों का खाका पेश किया है. इंडियन एक्सप्रेस के लिए लिखे लेख में शुभेंदु अधिकारी में बंगाल में हुई हिंसा के लिए पूरी तरह से तृणमूल कोंग्रेस को ही जिम्मेदार बताया और इसे जनादेश का अपमान भी बताया. उन्होंने लिखा की “राज्य ने हाल ही में रवींद्रनाथ टैगोर की जयंती मनाई है, जिन्होंने कहा था ‘चित्त जहाँ भयशून्य, उच्च मस्तक नित रहता’. लेकिन आज के बंगाल में लोगों का मन स्वतंत्र नहीं है और वर्तमान स्थिति को देखते हुए सिर भी शर्म से झुका हुआ है”.

भाजपा दल नेता ने लिखा की “एक वर्तमान केंद्रीय मंत्री पर उन गुंडों द्वारा हमला किया गया जिनका संबंध सत्ताधारी पार्टी से था, ये अकेली ऐसी घटना नहीं थी, पूरे राज्य में हिंसा अबाध गति से जारी रही”. अधिकारी ने आगे लिखा की “टीएमसी ने जनादेश का अपमान करते हुए राज्य भर में आंतक फैलाया और लोकतंत्र की संस्कृति को नष्ट करने का हरसंभव प्रयास किया गया”.

उन्होंने कहा की “बंगाल के लोगों ने टीएमसी को शासन करने के लिए स्पष्ट जनादेश दिया था, न कि राज्य भर में आतंक फैलाने के लिए नहीं, सरकार के स्तर पर बहुत कुछ किया जाना है, कोविड को नियंत्रण में लाना है, लेकिन शीर्ष नेतृत्व समर्थित टीएमसी कैडर राज्य में लोकतंत्र की संस्कृति को नष्ट करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं, अपनी रैलियों में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री इतनी व्यस्त थीं कि उन्हें प्रधानमंत्री द्वारा हाल ही में आयोजित कोविड की बैठकों में शामिल होना समझदारी नहीं लगी”.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

चुनाव नतीजे: हारकर भी जीत गई BJP, शुवेंदु ने ममता को हराया

By Sachin

One thought on “TMC की लेफ्ट जैसी दुर्गति होगी, शुभेंदु अधिकारी ने लिखा लेख”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *