भगवान श्रीकृष्ण

आगरा में स्थापित ताजमहल में भगवान श्रीकृष्ण की वेशभूषा में गए एक व्यक्ति को अंदर नहीं जाने दिया गया, उसे पश्चिमी गेट से वापस लौटाया गया.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भगवान श्रीकृष्ण जन्माष्टमी से 2 दिन पहले यानि की 29 अगस्त 2021 को आगरा के पर्यटन स्थल ताजमहल में एक व्यक्ति भगवान श्री कृष्ण की वेशभूषा बनाकर वहां ताजमहल देखने पहुंच गया, लेकिन उसे अंदर जाने की अनुमति नहीं दी गई. वहां पर ड्यूटी कर रहे सुरक्षाकर्मियों व भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के कर्मचारियों ने ही उस व्यक्ति को रोक दिया. कृष्ण जी के लुक में आए व्यक्ति को पश्चिमी दरवाजे से ही वापस लौटने को कह दिया गया.

दरअसल ताजमहल की सैर करने के लिए एक पर्यटन हिंदू धर्म में अधिक मान्यता वाले भगवान श्री कृष्ण ही का गेटअप करके पहुंचा. उसे देखकर ASI कर्मचारियों ने उसे रोका और स्मारक के अंदर एंट्री तक नहीं दी. वहां पर उपस्थित एक सुरक्षा कर्मी ने उसकी एक तस्वीर भी ली और इसके अलावा उसका वीडियो भी बनाया, वीडियो में वह पर्यटन कह रहा है की “कोई बात नहीं है. अब हमें ताजमहल नहीं देखना है” यह वीडियो अब सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है.

अधीक्षण पुरातत्वविद् डॉक्टर वसंत कुमार स्वर्णकार ने इस मामले पर बयान देते हुए कहा की “ताजमहल समेत ASI द्वारा संरक्षित किसी भी स्मारक में प्रमोशन सम्बन्धी गतिविधियों की अनुमति नहीं है. उक्त व्यक्ति श्रीकृष्ण की वेशभूषा में ताजमहल में प्रवेश कर के अपना प्रमोशन न करे, इसीलिए उसे रोका गया हो सकता है. किसी अन्य के स्वरूप की वेशभूषा में किसी को ऐसे स्मारकों में एंट्री नहीं दी जाती, ASI एक्ट के अनुसार ये परंपरा चल रही है और इसीलिए नई परंपरा शुरू नहीं की जा सकती”. बता दें की कोरोना के बाद अब ताजमहल में घुमने आए पर्यटनों संख्या लगातार बढ़ती जा रही है.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

कृष्ण जन्भूमि मंदिर: गजनवी से लेकर मुगलों तक इतनी बार तोड़ा गया

By Sachin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *