सीएम केजरीवाल

दिल्ली में पटाखों के बैन होने के बाद जनता के साथ-साथ व्यापारियों में सीएम केजरीवाल के प्रति नाराजगी देखी गई है। जिसका एक वीडियो भी सामने आया है।

प्राप्त जानकारियों के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अक्सर सोशल मीडिया और नेशनल मीडिया में सुर्खियों में बने रहते हैं। उनके कई पुराने वीडियो के कारण भी उन्हें ट्रोल किया जाता रहा है।, जिसमें उनकी हिंदुओं से घृणा वाले कुछ वीडियो भी बताए जा रहे हैं। वहीं इसी क्रम में 22 अक्टूबर 2022 को दिल्ली बीजेपी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया गया जिसमें ‘दिल्ली में पटाखे बैन करने पर व्यापारियों में केजरीवाल सरकार के खिलाफ भारी आक्रोश।’ देखें वीडियो:-

पराली बंद कर देंगे परंतु पंजाब में जल रही है

एक बुजुर्ग व्यक्ति वीडियो मे कहते हुए दिखाई देते है, “मैं तो सीएम केजरीवाल सरकार से एक सवाल पूछना चाहता हूं आपने कहा था। पराली बंद करेंगे पंजाब सारे में इस वक्त पर सारे में पराली जल रही हैं। वहां कोई रोकने वाला नहीं हैं। जबकि केजरीवाल सहाब की सरकार वहां भी है और यहां भी। और दिल्ली में इन्होंने पटाखे बैन कर दिए हमें तो समझ नहीं आया।”

लोगों का फूटा दर्द

वहीं वीडियो में आगे एक सरदारजी कहते हुए दिखाई देते हैं, “दिवाली एक ऐसा त्यौहार है जिसमें हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सब आपस में मिलके सेलिब्रेट (celebrate) करते हैं। यह एक ऐसा त्यौहार है जिसमें सबकी रोजी रोटी चलती हैं, लेकिन इन लोगों ने क्या किया इस पर प्रतिबंध लगा दिया हैं। इन्होंने यह नहीं सोचा इस कारोबार से जितने बंदे जुड़े हुए हैं और उनका क्या होगा।

उन्होंने आगे कहा कि ऐसे थोड़ी ना होता बंद करदो बंद करदो यह कोई हल नहीं हैं। 3 साल हो गए हमें घरों में बैठे हुए एक त्यौहार था दिवाली का वो भी इन्होंने नास कर दिया। लोग कह रहे है सीएम केजरीवाल जी ने 1000 बसें चलाई केजरीवाल जी ने 2000 बसें और चलाई। केजरीवाल जी आयेंगे रोड पे उन्हें तो सिर्फ सायरन देना हैं और निकल जाना है रोड़ से और हमारा क्या हाल होगा?”

पटाखों से प्रदूषण होता है बीड़ी सिगरेट से नहीं

वहीं वीडियो में आगे एक युवा व्यक्ति बोलता है, “हर चीज़ में पॉल्यूशन (pollution) हैं। गाड़ियां चल रही है कोई सिगरेट पीके फेक रहा हैं, कोई बीड़ी पीके। इसमें पॉल्यूशन (pollution) नहीं हैं? गाड़ी इतना ट्रैफिक हो रहा है रोड़ पर इसमें प्रदूषण नहीं हैं। पटाखे मांगते है बच्चे हमारे पास हमारे पास पटाखे नहीं है। वहीं एक दूसरा युवा कहता है , “एक के साथ एक दारू क्यों फ्री करी उस से नुकसान नहीं होता और पटाखों से प्रदूषण होता हैं यह सब केजरीवाल सरकार की चालाकी हैं।”

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

दिल्ली में दीपावली पर हिंदुओं के लिए पटाखे बैन, लेकिन AAP कार्यकर्ताओं

ने चलाई आतिशबाजी: देखें वीडियो

%d bloggers like this: