पंजाब

पंजाब में फरीदकोट जिले के गुरुद्वारा साहिब में प्रेसीडेंसी को लेकर दो गुटों में जमकर हाथापाई और मारपीट हुई, जिसका वीडियो वायरल हो रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पंजाब के फरीदकोट में गुरुद्वारे के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। वर्तमान अध्यक्ष और पूर्व अध्यक्ष के गुटों के बीच हुई इस झड़प में तलवार और कटार से हमले किए गए। इस झड़प में दो लोगों के गंभीर रूप से घायल होने की भी खबर है। रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुद्वारा साहिब में प्रेसिडेंट के चुनाव को लेकर बैठक हो रही थी। उसी दौरान ये वारदात हुई। देखें घटना का वीडियो:-

बताया जाता है कि फरीदकोट के जर्मन कॉलोनी इलाके में गुरुद्वारा साहिब गुरुद्वारा स्थित है। वहीं पर ये झड़प हुई। दरअसल, बैठक में गुरुद्वारा साहिब की वर्तमान कमेटी के सदस्यों के साथ ही पूर्व कमेटी के सदस्य भी शामिल थे। जैसे ही चर्चा शुरू हुई दोनों पक्षों में किसी बात को लेकर विवाद हो गया। पहले जोरदार बहसबाजी हुई और फिर दोनों  पक्ष हाथापाई पर उतर आए। मामला इतना गर्मा गया कि दोनों पक्षों की तलवारें खिंच गई और उन्होंने एक दूसरे पर तलवार से हमले कर दिए।

क्या है पूरा मामला

दरअसल, बैठक के वक्त वर्तमान प्रधान ने पूर्व प्रेसिडेंट पर 50,000 रुपए की हेराफेरी करने का आरोप लगाया, जिसके कारण ये विवाद खड़ा हुआ था। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद इतना बढ़ गया कि दोनों तरफ के लोगों ने श्रीगुरु ग्रंथ साहिब के सामने धार्मिक प्रतीक के तौर पर रखे तलवार और कृपाण को उठाकर एक दूसरे पर हमले कर दिए। इस हमले में कई लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने मौके पर पहुँचकर स्थिति को संभाला और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया।

वहीं इस मामले में एक्शन लेते हुए 9 लोगों के खिलाफ केस भी दर्ज किया गया है। इस घटना को लेकर निवर्तमान प्रधान जसवंत सिंह ने बताया कि आरोपितों ने इससे पहले भी उनपर हमले किए थे। इस बार भी वो बैठक हंगामा करने के उद्देश्य से ही आए थे। बहरहाल सिख जत्थेबंदियों ने इस घटना पर नाराजगी जताते हुए इसकी कड़ी निंदा की है।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

पंजाब में सबके साथ AAP की महिला MLA के पति ने ठोका थप्पड़: वीडियो वायरल

%d bloggers like this: