उत्तरप्रदेश

‘गंगा’ नदी में मिली नवजात बच्ची के लालन – पालन का पूरा उत्तरदायित्व योगी सरकार उठाने वाली हैं, उत्तरप्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ ने की घोषणा.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उत्तरप्रदेश के गाजीपुर में 15 जून मंगलवार को गंगा नदी में एक लकड़ी का बक्सा तेरता दिखा. नदी के किनारे रह रहे एक नाविक ने जब बॉक्स खोलकर देखा, तो उसने देखा की एक नवजात बच्ची इसमें रो रही है. बता दें की बॉक्स में मां दुर्गा की फोटो के साथ कई देवी-देवताओं के फोटो लगे थे, इसमें बच्ची की जन्म कुंडली भी मिली है. जानकारियों के हवाले से बताया जा रहा है की बच्ची को पुलिस आशा ज्योति केंद्र ले गई है, बच्ची पूरी तरह स्वस्थ बताई जा रही है.

इस घटना के बाद UP के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने एक ट्विट के जरिए यह जानकारी साझा करी की नवजात बच्ची ‘गंगा’ की देखभाल और लालन – पालन उत्तर प्रदेश सरकार करेगी. CM योगी ने अपने ट्विट में लिखा की “गाजीपुर में माँ गंगा की लहरों पर तैरते संदूक में रखी नवजात बालिका ‘गंगा’ की जीवन-रक्षा करने वाले नाविक ने मानवता का अनुपम उदाहरण प्रस्तुत किया है. नाविक को आभार स्वरूप सभी पात्र सरकारी योजनाओं से लाभान्वित किया जाएगा. उत्तर प्रदेश सरकार नवजात बच्ची के लालन-पालन का संपूर्ण प्रबंध करेगी”.

इसी क्रम में आगे बढ़ते हुए यूपी के CM योगी आदित्यनाथ ने गाजीपुर के स्थानीय जिलाधिकारी को आदेश दिया की नवजात बच्ची को चिल्ड्रेन होम में रखा जाए और सरकारी खर्चे पर उसका पालन पोषण हो। साथ ही जिस नाविक ने उस बच्ची की जान बचाई थी उसे भी सरकारी आवास समेत सभी सुविधाएँ मुहैया कराई जाए. बता दें की इस नवजात बच्ची को गुल्लू मल्लाह नामक नाविक ने सदर कोतवाली क्षेत्र के ददरी घाट से बरामद किया, जिसके बाद से ये खबर पुरे क्षेत्र में फ़ैल गई.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

यूपी में बजा चुनावी सायरन: योगी बोले “2 तिहाई बहुमत से भाजपा वापस आएगी”

%d bloggers like this: