VHP

विश्व हिंदू परिषद (VHP) के ने बड़ा खुलासा करते हुए दावा किया है की “बिहार में बढ़ रहा लव जिहाद और धर्मांतरण, पुलिस ने घुटने टेके”.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दक्षिण बिहार VHP यानि विश्व हिंदू परिषद संगठन के शीर्षस्थ पदाधिकारियों ने संयुक्त रूप से बिहार के महामहिम राज्यपाल से मिलकर ज्ञापन दिया और शीघ्र ही बिहार में ‘जिहादी आक्रमण’ की घटनाओं के बढ़ने और बम विस्फोट की वारदातों के मद्देनजर कार्यवाई की मांग की है. विश्व हिंदू परिषद के मुताबिक बिहार के सीमांचल क्षेत्रों में हिन्दूओ पर जिहादी आक्रमण बढ रहे है, कहीं पर ‘लव जिहाद’ में हिन्दू लड़कियों को जबरन उठाया जा रहा है तो कहीं धर्मांतरण कराया जा रहा है.

VHP ने यह भी आरोप लगाया की बिहार में कहीं मंदिरों के मूर्ति तोड़े जा रहे है तो कहीं हिन्दूओ के धार्मिक अनुष्ठान और पारिवारिक उत्सवों पर भी इस्लामिक आक्रमण हो रहे हैं, तो बिहार में जगह जगह बम विस्फोट हो रहे है और पुलिस प्रशासन इस्लामिक आक्रमणों के सामने बौना नजर आ रही है. विश्व हिंदू परिषद ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा की “बिहार पुलिस जिहादियों के सामने घुटने टेक रही है”. विहिप ने बताया की ‘लव जिहाद’, गोहत्या और हिन्दुओं पर आक्रमण के विरुद्ध यदि कहीं पर FIR भी हुए है तो पुलिस एक्शन में नहीं आ रही है, अधिकांश जगह पर तो FIR तक नहीं हुई है.

विहिप का कहना है की “आज बिहार का संपूर्ण सीमांचल क्षेत्र इस्लामी आतंकवादियों के निशाने पर है. किशनगंज, अररिया, पूर्णिया, कटिहार, दरभंगा, भागलपुर, मोतिहारी का ढाका प्रखंड, बेतिया, बगहा सहित बिहार के अनेक जिले खासकर भारत नेपाल और बांग्लादेश से जुड़े सीमावर्ती क्षेत्रों मे प्रतिदिन लव जिहाद, धर्मांतरण, गोहत्या, मठ-मंदिरों पर इस्लामी आक्रमण, हिंदुओं के धार्मिक अनुष्ठानों पर हमले प्रतिदिन हो रहे है. कई बार ‘लव जिहाद’ में तो पुलिस FIR करने से भी कतरा रही है और यदि कहीं FIR हो भी गई तो पुलिस अभियुक्त को पकड़ने और लड़की को बरामद करने में रुचि नहीं दिखा पा रही है. इसके कारण जिहदियीं का मनोबल काफी ऊंचा है और प्रतिदिन हिन्दू लडकियाँ जिहादियों द्वारा ऊठाई जा रही है. यहाँ तक कि बेटियो की बारात पर भी हमले कर उसे रोका जा रहा है”.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

विश्व हिंदू परिषद के विरोध के बाद मस्जिद-मदरसों के इमामों के कोविड भत्ते पर रोक

By Sachin

2 thoughts on “VHP: बिहार में बढ़ रहा लव जिहाद और धर्मांतरण”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *