हिंदू

देश का ध्यान इस समय ज्ञानवापी में चल रहे सर्वे पर हैं, इसी बीच एक अन्य भाजपाई सीएम ने हिंदू मंदिरों के पुनर्निर्माण के लिए शंखनाद कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Chief Minister Pramod Sawant) ने भी गोवा के उन हिंदू मंदिरों के पुनर्निर्माण पर जोर दिया है जिन्हे पुर्तग़ालियों ने क्षतिग्रस्त कर दिया था। इसके लिए उन्होंने सरकार द्वारा बजट जारी करने की जानकारी दी। इसी के साथ उन्होंने गोवा आने वाले यात्रियों को हिंदू मंदिरों की तरफ आकर्षित करना सरकार का कर्तव्य बताया। मुख्यमंत्री सावंत ने यह बातें शनिवार (21 मई 2022) को दिल्ली में आयोजित पाञ्चजन्य के सेमिनार में कहीं।

आपको बताते चलें की इस कार्यक्रम में सीएम प्रमोद सावंत (Chief Minister Pramod Sawant) ने कहा “जल्द ही गोवा देश के सबसे अच्छे राज्यों में से एक होगा। मझे गर्व है कि गोवा में आज़ाद के समय से ही समान नागरिक संहिता लागू है। यही कानून पूरे देश में भी लागू होना चाहिए। गोवा की आजादी में देरी कांग्रेस की वजह से हुई थी।”

उन्होंने आगे कहा “इसी पार्टी (कांग्रेस) की नीतियों की वजह से 1947 में स्वतंत्र हुए देश में गोवा 20 साल बाद 1967 में स्वतंत्र हो पाया। भाजपा की 2012 में सरकार आने के बाद जो काम 60 साल में नहीं हो पाया वो हमनें 10 वर्षों में 2022 तक कर के दिखाया है।” इसी दौरान सीएम प्रमोद सावंत (Chief Minister Pramod Sawant) ने मंदिरों की वापसी की बात कह दी।

सीएम सावंत ने कहा “पुर्तगालियों ने 450 सालों तक गोवा की मूल हिन्दू संस्कृति को नष्ट किया। हम उसी संस्कृति को फिर से स्थांपित करना चाह रहे। आखिर इसमें बुराई क्या है? अभी जहाँ-जहाँ भी टूटे मंदिर बने हुए हैं वो मंदिर बनने ही चाहिए। इसी के लिए इस बार सरकार ने अपने बजट में 20 करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं।” उनके इस बयान से इतना तो स्पष्ट हो गया है की भारतीय जनता पार्टी पर सभी हिंदु मंदिरों का पुनर्निर्माण करवाने की कोशिश करेगी।

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Chief Minister Pramod Sawant) ने कहा “प्रधानमंत्री मोदी द्वारा चलाए गए ‘आत्मनिर्भर भारत’ की संकल्पना ने हमें भी गोवा में ‘स्वयं पूर्ण गोवा’ अभियान चलाने के लिए प्रेरित किया। गोवा के लोग बहुत समझदार हैं। अगर कोई बंगाल से आ कर यहाँ राज्य करने की बात करेगा तो वो सफल नहीं होगा क्योंकि हम अपना काम करते रहे। TMC और ममता बनर्जी केवल मीडिया और पोस्टरों में ही रह गए। गोवा के लोगों को गोवा के लोग पहचानते हैं।”

दिल्ली के सीएम केजरीवाल से जुड़े एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा “हमारा मीडिया का बजट काफी कम है। बाकी लोगों का मीडिया का बजट थोड़ा ज्यादा है। हमने हर क्षेत्र में काम किया है। शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र में मैं किसी से भी कह सकता हूँ कि हम बेस्ट हैं। नरेंद्र मोदी जी को भी धन्यवाद जिन्होंने आयुर्वेद और योग को दुनिया के कोने-कोने में पहुँचा दिया है जो हमारी पारम्परिक विरासत रही है।”

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Chief Minister Pramod Sawant) ने इस कार्यक्रम में यह भी कहा “हम सूर्य, बालू और समुद्र के अलावा सांस्कृतिक पर्यटन को भी बढ़ावा दे रहे हैं। गोवा के आंतरिक हिस्सों में भी कई पर्यटन है जो अभी लोगों के सामने नहीं आया है। इसके अलावा गोवा में आध्यात्मिक टूरिज्म भी है। इन सभी को बढ़ावा देने के लिए हमने प्रयास शुरू कर दिए हैं।”

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

गोवा में लाउडस्पीकर से अजान पर रोक, हाईकोर्ट ने जारी किए आदेश

%d bloggers like this: