VIDEO

भारत में हिंदू-भगवानों को गालियां देना एक फैशन बनता जा रहा है, इसी कड़ी में एक नया VIDEO सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तमिलनाडु (Tamil Nadu) के मदुरै में 29 मई 2022 को एक रैली के दौरान राजनीतिक पार्टी द्रविण कड़गम (Dravid Kadgam) ने हिन्दू देवी-देवताओं के खिलाफ अपमानजनक टिपप्णी की थी। इस मामले में शनिवार (4 मई 2022) को अखिल भारतीय अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (AIDMK) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने कड़ी आलोचना की है।

आपको बताते चलें की रविवार को तमिलनाडु में पेरियार-वादी संगठनों जैसे द्रविड़ विदुथलाई कजगम (DVK), थोल थिरुमावलवन के विदुथलाई चिरुथिगल काची (VCK), पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) समेत कई अन्य संगठनों ने मदुरै में एक रैली आयोजित की। इस रैली को ‘सेन्सट्टई रैली’ बताया गया। रैली के दौरान हिन्दू देवताओं को गाली दी गई और भगवान कृष्ण, देवी अम्मन और भगवान अय्यप्पन की पूजा के खिलाफ नारेबाजी की गई।

बताया जा रहा है की सियासी रैली के दौरान लोग चिल्ला रहे थे “बकरियों और सूअरों की बलि माँगने वाली मारी (अम्मन देवी) एक भगवान है? महिलाओं का बलात्कार करने वाला कन्नन (भगवान कृष्ण) एक भगवान है? अगर एक आदमी एक आदमी से सेक्स करेगा तो क्या एक बच्चा पैदा? क्या अय्यप्पन को भगवान कहना सही है?” आप भी देखें VIDEO:-

वहीं इसमें शामिल लोगों ने हिन्दू देवी देवताओं के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करते हुए सवाल किया “भक्तों जो शरीर में छेद करके नाचता हुआ आता है, वो अपनी छाती में छेद क्यों नहीं कर लेता? अरे भक्तों तुम जबड़े में छेद कर नाचते हो, इससे तुम लोग अपने गले को क्यों नहीं छेद लेते। अरे भक्तों, सुई से अपनी जीभ में छेद करके आते हो, अपनी आँखों में छेद क्यों नहीं कर लेते।”

गौरतलब है की हिन्दू देवी देवताओं के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने के मामले में अन्ना द्रमुक के प्रवक्ता कोवई सत्यन ने द्रविड़ कड़गम (डीके) की आलोचना की। सत्यन ने कहा कि हिन्दुओं को गाली देना द्रविड़ कड़गम की संस्कृति रही है। उन्होंने कहा “डीएमके का कहना है कि वे किसी भी धर्म या हिन्दुओं के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन फिर वो कार्रवाई क्यों नहीं करती। वे हिन्दुओं के अपमान पर मूकदर्शक बने रहते हैं।”

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

VIDEO: मौलाना साजिद रशीदी ने कहा “हिंदू कोई धर्म नहीं है”

%d bloggers like this: