CM योगी

यूपी में CM योगी ने चुनावी बिगुल फूंक दिया है और उन्होंने बताया की कैसे उनकी सरकार ने नोकरियां दी, मगर कभी भी रिश्वत और सिफारिश नहीं चलने दी.

आज शुक्रवार 22 अक्टूबर 2021 को उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में टेक्नीकल असिस्टेंट के पर नियुक्त युवाओं को अपॉइंटमेंट लेटर बांटते हुए सरकार के कार्य साझा किए. उन्होंने इस दौरान राज्य में भरपूर नोकरियों मिलने की बात कही और इसके अलावा भ्रष्टाचार पर लगाम लगाते हुए रिश्वत और सिफारिश करने वालों की भी प्रदेश में दाल नहीं गलने देने का दावा किया. बता दें की उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष के आरंभ में ही विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं.

ज़ी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार CM योगी ने कहा “पारदर्शी तरीके से की गई नियुक्तियों के जरिए यूपी को फायदा होगा. पहले पारदर्शी तरीके से नियुक्ति नहीं होती थी. हमारी सरकार में दी गई सभी सरकारी नौकरियां बिना सिफारिश और बिना रिश्वत के युवाओं को मिलीं हैं. इतनी पारदर्शी व्यवस्था पिछली सरकार में नहीं थी. अगर हमारी सरकार ने पारदर्शिता से नौकरी नहीं दी होती तो साढ़े चार साल में साढ़े चार लाख लोगों को नौकरी नहीं मिल पाती”.

उन्होंने यह भी दावे के साथ कहा “हमारे पास देश का सबसे अच्छा मानव संसाधन है. इसके बावजूद कहीं न कहीं कोई कमी तो थी. अच्छे मानव संसाधन के बावजूद हम पीछे रहते थे. मगर विगत साढे चार वर्ष के बाद हम नंबर वन बन गए हैं. ये सब सामूहिक प्रयास से संभव हुआ है. इससे पहले यूपी के बारे में कहा जाता था कि यहां पर कोई कार्य संस्कृति नही है. कुछ भी ईमानदारी से लागू नहीं किया जा सकता है. आज देखिए, अब हम ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के मामले में देश में नंबर दो पर हैं”. CM योगी ने बताया की हमने आज 20 कृषि विज्ञान केंद्र खोले हैं. किसान को समय से जल, बीज और खाद मिल जाएं उसको ज्यादा फायदा होगा. यूपी में  145 हजार करोड़ रुपये का गन्ना किसानों को भुगतान किया जा चुका है.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

10,000 हिंदुओं की हत्या और माताओं-बहनों का शीलभंग हुआ, फिर भी इतिहास से गायब: सीएम

By Sachin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *