हिंदू धर्म

ज्ञानवापी विवाद के बीच सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने हिंदू धर्म का मजाक उड़ाते हुए आस्था का अपमान भी कर दिया, लेकिन भाजपा ने अब इसका भी करारा जवाब दे दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार काशी में ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के बीच जिस तरह से अखिलेश यादव ने इस पूरे मामले पर टिप्पणी की है उसपर भाजपा नेता शहजाद पूनावाला ने तीखा पलटवार किया है। बता दें कि अखिलेश यादव ने कहा था कि हमारे धर्म में ये है कि कहीं भी पत्थर रख दो, लाल झंडा रख दो पीपल के पेड़ के नीचे मंदिर बन गया। अखिलेश ने कहा की भाजपा-आरएसएस समाज को बांटने के षड़यंत्र में शामिल हैं। लेकिन अब भाजपा ने इसका जवाब भी दे दिया है।

आपको बताते चलें की हाल ही में भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने अखिलेश के बयान का जवाब देते हुए कहा की अखिलेश यादव जो दावा करते हैं कि श्री कृष्ण उनके सपने में आए थे उन्होंने हिंदू आस्था का मजाक उड़ाया है। उन्होंने कहा कि पीपल के पेड़ के नीचे एक पत्थर रखने और लाल रंग का कपड़ा रखने से मंदिर बन जाता है।

शहजाद ने आगे कहा की अखिलेश यादव जैसे व्यक्ति का इस तरह का हिंदू आस्था का मजाक उड़ाना चौंकाने वाली बात नहीं है क्योंकि उनकी राजनीति मासूम राम भक्तों पर गोली चलाने पर गर्व के इर्दगिर्द घूमती है। यह वही अखिलेश यादव हैं जिन्होंने हिंदू साधू-संतों का मजाक उड़ाते हुए कहा था कि ये चिलमजीवी हैं, उनकी सरकार ने साधू-संतों के खिलाफ पुलिस का इस्तेमाल किया था।

पूनावाला ने कहा की ये वही अखिलेश यादव हैं जिन्होंने उस कांग्रेस से हाथ मिलाया, जिसने 70 साल तक राम मंदिर निर्माण में बाधा उत्पन्न की। इन लोगों ने राम सेतू को गिराने का षड़यंत्र किया। इन लोगों ने हिंदुत्व को बोको हराम का आईएसआईएस बताया था। ये लोग हिंदू आस्था का मजाक उड़ाते रहते हैं, लेकिन इन्होंने कभी भी दूसरे धर्म का मजाक नहीं उड़ाया। यह दर्शाता है कि यह लोग कितना हिंदू धर्म से नफरत करते हैं।

भाजपा प्रवक्ता ने आगे कहा की ये लोग अपनी राजनीति के लिए हिंदू आस्था का मजाक उड़ाते हैं। अखिलेश यादव को जानना चाहिए कि जब मंदिर बनता है, तो मूर्ति को यहां रखने से पहले प्राण प्रतिष्ठा की जाती है, जिसके बाद यह मंदिर बनता है। लेकिन अखिलेश यादव वोटबैंक के लिए इतने आतुर हैं कि वह किसी भी स्तर तक हिंदू आस्था को चोट पहुंचा सकते हैं।

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

PM Modi ने अखिलेश यादव के सपनों की बताई ये बड़ी वजह

2 thoughts on “अखिलेश ने हिंदू धर्म का मजाक उड़ाया तो भाजपा ने दिया मुंह तोड़ जवाब, बताई मूर्ति स्थापना की धार्मिक प्रक्रिया”

Comments are closed.

%d bloggers like this: