जनसंख्या नियंत्रण

AIMIM प्रवक्ता वारिस पठान (Waris Pathan) ने सीएम योगी और आरएसएस प्रमुख के जनसंख्या नियंत्रण वाले बयानों पर अपनी बेतुकी टिप्पणी दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रिपब्लिक भारत की एक टीवी डिबेट के दौरान AIMIM प्रवक्ता वारिस पठान (Waris Pathan) ने जनसंख्या नियंत्रण वाले बयान को लेकर कहा “मोहन भागवत साहब इंसान के बच्चों की तुलना जानवर के साथ कर रहे हैं, लेकिन वे ये भूल गए हैं की भाजपा के यूनियन हेल्थ मिनिस्टर ने अप्रेल 2022 में पार्लमेंट में खड़े होकर कहा था की भारत का कोई पॉपुलेशन बढ़ा नहीं हैं।”

पठान ने आगे कहा “मंत्री ने कहा था की जनसंख्या के ऊपर नया कानून लाने की जरूरत अभी नहीं हैं। भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट में भी यही बात दोहराई है की कोई कानून लाने की जरूरत नहीं हैं, जब भाजपा खुद यही बात बोल रही है तो योगी और मोहन भागवत उनसे बड़े हैं क्या? योगी और भागवत तो मुस्लिम समुदाय को टारगेट करके ये बाट बोल रहे हैं।”

इसके साथ-साथ पठान ने एक ट्वीट भी किया और उस ट्वीट में लिखा की जब भारत सरकार ने संसद में बयान दिया की देश में जनसंख्या कानून लाने की जरूरत नहीं है तो मोहन भागवत और योगी आदित्यनाथ कौन होते हैं जनसंख्या नियम कानून लाने की बात करने वाले! आपको बता दें की इससे पहले भी कई बार वारिस पठान ने आपत्तिजनक बयान भी दिए हैं।

गौरतलब है की राजस्थान के उदयपुर में कन्हैया लाल हत्याकांड मामले की जांच एनआईए द्वारा की जा रही है। जांच एजेंसियों द्वारा दावा किया गया है कि आरोपियों का कनेक्शन पाकिस्तान के साथ भी है। इस विषय पर चर्चा करते हुए वारिस पठान भड़क गए थे और कहा “धर्म संसद में मुसलमानों के खिलाफ आग उगलने वाले यति नरसिंहानंद सहित कई लोगों को पुलिस गिरफ्तार नहीं करती लेकिन उसके बारे में जानकारी देने पर आपके जैसे ही पत्रकार ज़ुबैर को गिरफ्तार कर लिया जाता है।”

इसे भी जरूर ही पढ़िए:-

केवल खाना और आबादी बढ़ाना तो जानवर का काम है: मोहन भागवत ने ऑन कैमरा दिया बयान

One thought on “योगी और आरएसएस होती कौन है जनसंख्या नियंत्रित कानून बनाने वाले: वारिस पठान”

Comments are closed.

%d bloggers like this: