ओवैसी

AIMIM पार्टी सम्मेलन के पोस्टर पर अयोध्या को फ़ैजाबाद लिखने के कारण हिंदू संतों ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा “ओवैसी को अयोध्या में नहीं घुसने देंगे”.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अयोध्या मुख्यालय से 40 किमी दूर रुदौली क्षेत्र में ‘शोषित वंचित समाज सम्मेलन’ नाम से 7 सितंबर 2021 को AIMIM पार्टी एक राजनीतिक सभा का आयोजन कर रही है. लेकिन इस सम्मेलन के पोस्टर पर अयोध्या को फ़ैजाबाद लिखने के कारण हिंदू संत भड़क गए हैं और उन्होंने यह ऐलान भी कर दिया है की यदि इसे नहीं बदला तो ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष असादुदीन ओवैसी को अयोध्या में घुसने नहीं देंगें.

उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनावों के लिए सभी पार्टी अपना ध्यान यूपी की ओर कर बैठी हैं, ऐसे AIMIM क्यों पीछे रहे. मगर इस बार उनका दाव उल्टा पड़ता दिखाई दे रहा है. उनकी पार्टी के ओर से जारी किए गए पोस्टर पर बवाल खड़ा हो गया है.

इस पोस्टर वाले मामले पर हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास का ने बयान जारी कर कहा की “संसद देश का मंदिर है और उसके सदस्य ओवैसी की भाषा ऐसी है. अयोध्या से क्या चिढ़ है? क्यों अयोध्या को फैजाबाद कह रहे हैं? सरकारी अभिलेख में भी अयोध्या नाम दर्ज हो गया है तो पोस्टर पर फैजाबाद नाम दुर्भाग्यपूर्ण है. ओवैसी की विचारधारा की पुरजोर निंदा कर हम पोस्टर को हटाने की माँग करते हैं”. इसे उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ और अयोध्या नगरी के वासियों का अपमान बताते हुए तपस्वी पीठ के महंत जगत गुरु परमहंस आचार्य ने बयान दिया की “यह मुख्यमंत्री और अयोध्यावासियों का अपमान है. यदि फैजाबाद नाम लिखे पोस्टर नहीं हटाए जाते हैं, तो अयोध्या में ओवैसी का प्रवेश वर्जित किया जाए. हम अयोध्या में एआईएमआईएम के सम्मेलन को किसी भी सूरत में नहीं होने देंगे”.

इसे भी जरुर ही पढिए:-

अयोध्या में संजय सिंह पर केस दर्ज, भड़के रामभक्त

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: