Punjab

CM योगी आदित्यनाथ ने Punjab के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह द्वारा मलेरकोटला को नया जिला बनाने को कोंग्रेस की विभाजनकारी नीति बताया.

शुक्रवार 14 मई को Punjab के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अपने राज्य के 23वें जिले की घोषणा कर दी है. बता दें की मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने मलेरकोटला को नया जिला घोषित किया है. उन्होंने बताया की मैं जानता हूँ कि यह लंबे समय से लंबित माँग रही है और देश की आजादी के वक्त पंजाब में 13 जिले थे, सिंह ने कहा कि मलेरकोटला शहर, अमरगढ़ और अहमदगढ़ नए जिले की सीमा में आएँगे. बता दें की यह संगरूर जिला मुख्यालय से करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और मुस्लिम बहुल इलाका भी बताया जा रहा है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पंजाब की कॉन्ग्रेस सरकार द्वारा मुस्लिम बहुल क्षेत्र को अलग जिला बनाए जाने पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पंजाब सरकार की आलोचना की हैं, CM योगी आदित्यनाथ ने ट्विट कर इसे कोंग्रेस की विभाजनकारी नीति बताया. उन्होंने अपने ट्विट में लिखा की “मत और मजहब के आधार पर किसी प्रकार का विभेद भारत के संविधान की मूल भावना के विपरीत है, इस समय मलेरकोटला का गठन किया जाना कांग्रेस की विभाजनकारी नीति का परिचायक है”.

इससे पहले Punjab के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने जब नय जिले की घोषणा करते हुए ट्विट कर लिखा की “यह साझा करते हुए खुशी हो रही है कि ईद-उल-फितर के पाक मौके पर मेरी सरकार ने घोषणा की है कि मलेरकोटला राज्य का नवीनतम जिला होगा, 23वें जिले का विशाल ऐतिहासिक महत्व है, जिला प्रशासनिक परिसर के लिए उचित स्थान का तत्काल पता लगान का आदेश दिया है, मलेरकोटला को जिला का दर्जा देना कॉन्ग्रेस का चुनाव से पहले किया गया एक वादा था”. उन्होंने ये ट्विट 14 मई को लगभग दोपहर 12 बजे ही कर दिया.

इसे भी पढिए:-

पंजाब में 32 किसान संगठन 8 मई को करेंगें लॉकडाउन के विरुद्ध प्रदर्शन

Leave a Reply

%d bloggers like this: