योगी आदित्नाथ के बाद अब एम पी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी अब लव जिहाद को रोकने के लिए तगड़ा कानून ला रहे हैं, कल केबिनेट में होगा पारित.

शिवराज

इस साल नवंबर महीने के अंत उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्नाथ ने देश में तेज़ी से बढ़ रहे लव जिहाद के मामलों पर रोक थाम हेतु एक कानून को मंजूरी दी थी, अब उन्हीं के नक्ष्य कदम पर चलते हुए मध्यप्रदेश के मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी लव जिहाद पर अंकुश लगाने के लिए “धर्म स्वातंत्र्य अध्यादेश” राज्य में लागु करने का मन बना चुके हैं.

शिवराज के धर्म स्वातंत्र्य अध्यादेश” को समझें

लव जिहाद पर नियन्त्रण हेतु MP के CM शिवराज सिंह चौहान के इस नय कानून में कुल मिलाकर 19 प्रकार के प्रावधानों को जोड़ा गया है, जिनके अंतर्गत यदि कोई महिला उसके साथ हुए जबरन धर्म परिवर्तन का मुगदमा दर्ज करवाती हैं तो फिर पुलिस आरोपी पर कारवाई करने हेतु किसी रूप से बाध्य नहीं होगी.

शिवराज के इस नय कानून के अंतर्गत यदि कोई व्यक्ति किसी नाबालिग़, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की कन्या अथवा महिला के धोखेबाजी से विवाह करने के मामले में अपराधी साबित होता है तो उसे 2 वर्ष से लेकर 10 वर्ष की सजा होगी. इसके अलावा “धर्म स्वातंत्र्य अध्यादेश” कानून में ये प्रावधान है की यदि कोई व्यक्ति धन और जायदाद के लिए किसी महिला से अपना धर्म छिपाकर शादी करेगा तो उसकी शादी अमान्य कहलाएगी.

इस प्रकार से राज्य में लागु होगा कानून

मध्यप्रदेश सरकार की केबिनेट में इस “धर्म स्वातंत्र्य अध्यादेश” को CM चौहान मंगलवार यानि कल लाने वाले हैं और इसे कल ही केबिनेट द्वारा पारित भी किया जाएगा.

केबिनेट मंजूरी के बाद कानून को राज्यपाल को सौंपा जाएगा. लेकिन राज्यपाल की स्वीकृति के पश्च्यात भी इस अध्यादेश को राज्य में पूरी तरह से लागु होने में 6 महीने का समय लग जाएगा. क्योंकि कोरोना के करन विधानसभा सत्र को रोका गया था, किंतु अब सत्र पुन: आरंभ कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें:-

जानिए CM योगी के लव जिहाद को लेकर कानून का UP में क्या असर पड़ा?

By Sachin

2 thoughts on “योगी के बाद शिवराज मामा का कमाल, लव जिहाद पर ला रहे ये तगड़ा कानून”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *