यति नरसिंहानंद

देश भर के कट्टरपंथी महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती का सर काटने की मांग के साथ प्रदर्शन कर रहे हैं, ऐसे ही एक प्रदर्शन का सामना हिंदू कार्यकर्ताओं से हो गया.

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के डासना में स्थित शिव व शक्ति मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती का सर काटने की मांग के साथ देश भर में कट्टरपंथीयों ने विरोध और भड़काऊ बयानबाजी जारी कर रखी है, इसी कर्म में हरियाणा के पानीपत स्थित यमुनानगर में एक प्रदर्शन के दौरान हिंदू कार्यकर्ताओं के साथ कट्टरपंथीयों की झड़प हो गई.

यति नरसिंहानंद

यति नरसिंहानंद पर बवाल

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हरियाणा के पानीपत स्थित यमुनानगर में यति नरसिंहानंद पर आपत्तिजनक नारे लगाने वाली भीड़ का सामना हिंदू कार्यकर्ताओं हो गया. दोनों दलों ने एक दुसरे के खिलाफ़ जमकर नारे बाजी की, तभी मौके पर पुलिस को बिच बचाव करने आना पड़ा. पुलिस ने दोनों दलों को समझाने की कौशिश करी तो हिंदू कार्यकर्ताओं का समूह और उग्र प्रदर्शनकारियों की भीड़ भी पीछे हट गई.

हिंदू संघर्ष समिति के कार्यकर्ता नरसिंहानंद सरस्वती व शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी को जेड प्लस सुरक्षा मुहैया कराने की माँग को अनाज मंडी में धरना कर रहे और वहीं कट्टरपंथी उनके खिलाफ़ प्रदर्शन कर रहे थे, इसलिए हालत बिगड़ गए. पुलिस ने हिंदू कार्यकर्ताओं की मांग पर कट्टरपंथीयों के लाउडस्पीकर पर पाबंदी लगाते हुए उन्हें अनाज मंडी से हटाया.

यति नरसिंहानंद और वसीम रिजवी के विरोध प्रदर्शन की वजह

डासना शिव – शक्ति मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती और शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी के खिलाफ़ कई दिनों से कट्टरपंथी लोग भड़काऊ प्रदर्शन कर रहे हैं. इसका कारण यह है की कुछ सप्ताह पहले वसीम रिजवी ने सुप्रीम कोर्ट में कुरान से 26 आयतों को हटाने को लेकर एक जनहित याचिका दायर की थी, इसमें उन्होंने दावा किया की ये आयतें आतंकवाद को बढ़ावा देती है.

धमकी का नया वीडियो यहाँ देखें :-

यति नरसिंहानंद का ‘सर तन से जुदा’ वाली धमकी का नया वीडियो

वहीं दूसरी ओर महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती कुछ दिनों पहले दिल्ली प्रेस क्लब इंडिया में प्रेस कोंफ्रेंस के दौरान बड़ा बयान जारी करते हुए कहा की “अगर इस्लाम की वास्तविकता, जिसके लिए मौलाना कहते हैं कि यदि आप मुहम्मद के बारे में बोलते हैं, तो हम आपका सिर कलम कर देंगे, हिंदुओं को इस डर से छुटकारा मिलना चाहिए, हम हिंदू हैं, अगर हम भगवान राम और अन्य हिंदू देवताओं की विशेषताओं के बारे में कह सकते हैं, तो मुहम्मद हमारे लिए कुछ भी नहीं है, हम मुहम्मद के बारे में और सच क्यों नहीं बोल सकते थे?”

इसे भी जरुर ही पढिए:-

ओवैसी की पार्टी ने नरसिंहानंद, रिजवी का सर धड़ से अलग करने वाला जारी किया पोस्टर

By Sachin

4 thoughts on “यति नरसिंहानंद को धमकी देने वाली गैंग और हिंदू कार्यकर्ताओं का हुआ आमना-सामना”
  1. Yeh desh samvidhaan se chalega aur chalta rahega. Aur fatwa chatwa katwa nahi chalega, yeh pakistan ya turkistan nahi hain. Yeh hindustan hain. Bole vande maa taram.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *